Bhai Ne Behan Ka Kiya Rape

बिस्तर पर लेटी हुई मंजू की आंखों से अश्रुधारा बह रही थी मगर हे केशव! ये आंसू अपने शरीर पर हो रही हैवानियत से आहत उस अबला नारी के थे या अपने फूल से बेट
नमस्कार मित्रों। हमारी वेबसाइट Brahmand Tak में आपका हार्दिक स्वागत हैं। में हूं Akshita Chaudhary और आप पढ़ रहे हैं Brahmand Tak Blogs । दोस्तों आज की ये खबर आपका दिल दहला देगी। दरिंदगी की ये दास्तान लिखने का मन नहीं कर रहा लेकिन लिखना जरूरी है। बड़े Bhai Ne Behan Ka Kiya Rape और छोटे भाई ने भांजे को मार डाला . इससे ज्यादा हैवानियत कुछ नहीं हो सकती। आज सुबह ही दैनिक भास्कर पर यह खबर आई तो मन विचलित सा हो गया। एक जमाना था जब पराई स्त्री को मां माना जाता था फिर आज ऐसा क्या हो गया की इंसान एक ही मां के गर्भ से जन्मी खुद की सगी बहन के साथ हैवानियत करने को उतारू है। Brother Raped Sister In Mandsaur, Sister Rape Brahmand tak, Sister Rape BT News, BT News, Brahmand Tak News

बड़े भाई ने किया रेप, छोटे भाई ने भांजे को पिलाया जहर

Bhai Ne Behan Ka Kiya Rape




भाई बहन के पवित्र रिश्ते को शर्मसार करने वाली यह घटना मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले के अफजलपुर थानाक्षेत्र की है। TI कमलेश सिंगार ने बताया कि 2017 में भाई बहनों की शादी आटा साटा प्रथा के अनुसार हुई थी। आरोपी भाई सुशील  की शादी अंजू ( परिवर्तित नाम ) से तथा मंजू ( परिवर्तित नाम ) की शादी अंजू के भाई संजीव से हुई थी। मंजू को यह शादी पसंद नही थी पर उसके भाई सुशील की शादी हो नही पा रही थी तो उसने अपने भाई के लिए ये शादी कर ली फिर भाई एहसान फरामोश और दरिंदे भाई ने अपनी ही बहन के साथ हैवानियत की सारी हदें बार कर दी। शादी के बाद सुशील के एक लड़की हुई और लगभग उसी समय मंजू के लड़का हुआ। शादी के लगभग डेढ़ साल बाद सुशील और उसकी पत्नी अंजू में अनबन हुई और वो अपने मायके चली गई। आटा साटा प्रथा के मुताबिक गुस्साया सुशील अपनी बहन को भी अपने साथ घर ले आया। 

डेढ़ साल बाद भी पत्नी नहीं आई तो बहन से करने लगा रेप

पत्नी से अनबन के डेढ़ साल बाद भी जब पत्नी सुशील के पास नही लौटी तो अपनी सगी बहन को भी नही बक्शा। करीब 2-3 महीने पहले जब सारे परिजन काम के लिए निकल गए तो अपनी सगी बहन के साथ जबरदस्ती गलत काम किया , बहन ने विरोध किया तो जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता ने जब यह बात अपनी मां को बताई तो मां ने भी बात को दबा दिया। हमारे समाज में बेटियों का सबसे बड़ा सहारा, उनका सच्चा साथी उनकी मां होती है जो हर कदम पर बेटी के साथ खड़ी रहती हैं, ऐसे में पीड़िता का दर्द मां ने भी नही समझा। इस घटना के बाद भाई रोजाना अपनी सगी बहन से बलात्कार करता रहा।
फूल सरिंखी नाजुक स्त्री की चींखे उसी चारदीवारी में दबी जा रही थी जहां से उसने बोलना सीखा था, वही भाई जो रक्षाबंधन पर अपनी बहन की रक्षा करने की कसम खाता था, आज अपनी ही सगी बहन को अपनी हवश का शिकार बना रहा था।मां की चुप्पी से स्तब्ध और भाई की धमकियों से सहमी इस बहन ने इसे ही अपना भाग्य समझ लिया था। अब वह गुजारे के लिए बाहर काम पर जाने लगी थी। लेकिन अपने चार साल के बेटे को घर पर ही अपने छोटे भाई के साथ छोड़कर जाती थी। वह उसकी देखरेख करता था। 



बहन ने फोन नही दिलाया तो छोटे भाई ने भांजे को मार डाला

जब बहन काम पर जाने लगी तो छोटा भाई, भांजे की देखरेख करने के बदले मोबाइल को डिमांड करने लगा परंतु बहन के पास इतने पैसे नही बचते थे की वह महंगा स्मार्टफोन खरीद के दे सके और उसने भाई से कहा की इतने पैसे नही बचते और तुम कोई काम तो करते नहीं हो फिर मोबाइल की क्या जरूरत हैं। इस बात से गुस्साए भाई ने 5 जनवरी 2022 को अपने भांजे को कीटनाशक पीला दिया जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। 


बेटे की मौत के बाद मंजू सहम उठी, भगवान से भरोसा तो उठ ही चुका था इस से ज्यादा किसी स्त्री के साथ और क्या बुरा होगा। हैवान भाई का दिल अभी भी नही पसीजा और बेटे के मौत से आहत बहन के साथ उसने फिर बलात्कार किया।
है केशव! आप ने अर्जुन से कहा था की "जब जब धरती पर धर्म का नाश होता है और अधर्म बढ़ता है तब तब मैं धरती पर अवतार लेता हूं"। अब इससे बड़ा अधर्म क्या होगा। क्यों नहीं अवतार लेते हो, इन नरपिशाचों को एक ही बार में क्यों नहीं सुदर्शन से काट देते हों।

बिस्तर पर लेटी हुई मंजू की आंखों से अश्रुधारा बह रही थी मगर हे केशव! ये आंसू अपने शरीर पर हो रही हैवानियत से आहत उस अबला नारी के थे या अपने फूल से बेटे की मौत पर बेसहारा मां के थे।



एक दिन मौका पाकर मंजू पीहर से भागकर अपने ससुराल चली गई। तो भाई ने पुलिस थाने में जाकर अपनी बहन की गुमशुदगी दर्ज करा दी। पुलिस ने जांच पड़ताल की तो मंजू ने अपने भाइयों की दरिंदगी की सारी दास्तान पुलिस को सुना दी।







दोस्तों यह घटना निश्चित ही पूरी मानवता को शर्मसार कर देने वाली हैं। एसे राक्षसों के लिए फांसी की सजा भी कम है। में मध्यप्रदेश सरकार से इन हैवानों के खिलाफ सख्त सजा की मांग करती हूं, जो साथ है वो इस पोस्ट को शेयर करें और जालिमों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए प्रशासन पर दबाव बनाएं। 

"और कितना धीरज रखूं, और कितने वज्रपात सहूं

लिखने पर मेरे हाथ कांपते, किस मुंह से ऐसी बात कहूं

अधर्म का घड़ा नहीं, सागर भर चुका है, तू मोहताज किस अर्जी का है

हे माधव, हर तरकीब लगा कर हार चुकी हूं, अब इंतजार भगवान कल्कि का है"
                                                 - ब्रह्मांड तक  

अधर्म को कैसे रोकें 

आप चाहे कितने भी मॉडर्न बन जाओ, कितनी भी अत्याधुनिक शिक्षा प्राप्त कर लो, पर बिना नैतिक शिक्षा के आप डॉक्टर, इंजीनियर, वैज्ञानिक और अधिकारी तो बन जाओगे मगर इंसान नही बन पाओगे। बिना नैतिक शिक्षा के अधर्म, भ्रष्टाचार, लूटपाट, डकैती, बलात्कार कभी खत्म नहीं होंगे। हमारे शिक्षा तंत्र में नैतिक शिक्षा का कोई पाठ्यक्रम ही नहीं है, हमें धार्मिक कथाएं नहीं पढ़ाई जाती, जिनसे सत्चरित्र का निर्माण होता है। बस आधुनिक बनने की होड़ में कॉन्वेंट स्कूल में बच्चों को पढ़ाना है। कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने से कैरियर तो बन जायेगा लेकिन इंसान नही बन पाएगा। आज जो कुछ इंसानियत हम में बची है वो केवल हमें अपने परिवार और समाज से प्राप्त हुई है कल को जब अगली पीढ़ी को वो भी नही मिलेगी तो विद्यालयों में केवल रोबोट तैयार होंगे। जो लोग आज कुल बनकर बोलते है को मंदिर बनाने से विकास नहीं होगा स्कूल अस्पताल बनवाओ, अब उन मूर्खो को कौन समझाए की यही मंदिर हजारों लाखों साल तक लोगो को मर्यादा पुरषोत्तम भगवान राम के चरित्र से प्रेरित करता रहेगा। इसलिए अपने पाठ्यक्रम में नैतिक शिक्षा को जोड़ने की कवायद कीजिए और अपने बच्चो को धार्मिक शिक्षा घर पर ही दीजिए क्योंकि अधार्मिक तत्व विद्यालयों में ऐसी शिक्षा लागू नहीं होने देंगे। जय हिंद जय भारत 🇮🇳🚩




Bhai Ne Behan Ka Kiya Rape, Brother Raped Sister In Mandsaur, Sister Rape BT Mews, BT News, Brahmand Tak News, Mandsaur News, Mandsaur Rape News




3 comments

  1. Herat touching story'... aise darinde ko turnat fasi honi chahiye
    1. Akshita Chaudhary
      This comment has been removed by the author.
  2. 😢
© Brahmand Tak. All rights reserved. Developed by Jago Desain