Kya Hai Hyperbaric Oxygen Therapy | Oxygen Therapy Ke Kya Fayde Hai

एक ऐसी थेरेपी है जिसे लेने पर आप बुढ़ापे में भी जवान दिखने लग जायेंगे , जिससे आप के चेहरे पर ग्लो आएगा, जिससे न केवल आपके चेहरे की ब्यूटी बढ़ेगी बल्कि
नमस्कार मित्रों। हमारी वेबसाइट Brahmand Tak में आपका हार्दिक स्वागत है। मैं हूं Akshita Chaudhary और आप पढ़ रहे हैं Brahmand Tak Blogs। दोस्तों आज में आपको बताऊंगी Kya Hai Hyperbaric Oxygen Therapy | Oxygen Therapy Ke Kya Fayde Hai के बारे में। अगर मैं आपसे कहूं कि एक ऐसी थेरेपी है जिसे लेने पर आप बुढ़ापे में भी जवान दिखने लग जायेंगे , जिससे आप के चेहरे पर ग्लो आएगा, जिससे न केवल आपके चेहरे की ब्यूटी बढ़ेगी बल्कि आप बहुत फ्रेश महसूस करेंगे। एक ऐसी थेरेपी जिससे आपका ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होगा, जो गैंग्रीन, डायबिटिक फुट, ऑटिज्म, माइग्रेन, पैरालिसिस, फुट अल्सर, बॉडी में सूजन और गठिया जैसी बीमारियों को खत्म कर सकती है, तो निश्चित तौर पर आप जानना चाहेंगे कि यह थेरेपी क्या है और कैसे काम करती है। 
What Is HBOT, Hyperbaric Oxygen Therapy, Oxygen Therapy Ke Fayde, Side Effects Of HBOT, Hyperbaric Oxygen Therapy Kya Hai

Kya Hai Hyperbaric Oxygen Therapy 

HBOT Is Natural And The Best Way To Increase  Your Skin Glow And Face Beauty



Hyperbaric Oxygen Therapy एक ऐसी चिकित्सकीय थेरेपी है जिसमें मरीज को अत्यधिक उच्च दाब (hyperbaric) पर ऑक्सीजन देकर कई गंभीर बीमारियों, चोट, बॉडी की सूजन और दर्द का इलाज किया जाता है। 
Hyper मतलब उच्च और Baric मतलब दाब। Hyperbaric Oxygen Therapy में एक नियमित समयावधि ( For Example - Weekly, Daily, monthly etc) में रोगी या सामान्य व्यक्ति को 1-2 घंटे तक उच्च दाब ( सामान्य वायुमंडलीय दाब से 2-2.5 गुना ज्यादा दाब) पर 100% ऑक्सीजन दी जाती है। ऑक्सीजन थेरेपी से शरीर का ऑक्सीजन लेवल बढ़ जाता है, ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है, तथा उन कोशिकाओं और उत्तकों को भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन मिल जाती है जो या तो चोटिल हो या बीमार हो या जिन्हे ऑक्सीजन प्रयाप्त मात्रा में नहीं मिल पा रही हो। ऑक्सीजन थेरेपी स्किन सेल्स को भी खूबसूरत और तंदुरस्त बनाती है और चेहरे पर निखार आता है इसीलिए हाइपरबैरिक ऑक्सीजन थेरेपी का लोग एंटी एजिंग के रूप में भी इस्तेमाल करते है। कईं सेलेब्रिटी जैसे की वरुण धवन, कैटरीना कैफ, अथिया शेट्टी, टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर आदि खूबसूरत और जवान दिखने के लिए नियमित रूप से हाइपरबैरिक ऑक्सीजन थेरेपी लेते है। एथलीट और जिम करने वाले भी HBOT नियमित रूप से लेते है जिससे उनकी परफॉर्मेंस बेहतर होती है और खेल के दौरान थकान कम महसूस होती है साथ ही उनकी चोटिल होने की संभावना भी बहुत कम हो जाती है। 

Kaise Di Jati Hai Hyperbaric Oxygen Therapy

HBOT में मरीज या सामान्य व्यक्ति को एक नियमित समयावधि ( daily, weekly, monthly etc.) में 1-2 घंटे तक एक चैंबर मशीन में लेटाया जाता है जिसमें उच्च दाब ( सामान्य वायुमंडलीय दाब से 2 से 2.5 गुना अधिक दाब) पर 100% ऑक्सीजन दी जाती है। जबकि वायुमंडल से हमें मात्र 21% ऑक्सीजन ही मिलती है।
चूंकि चैंबर में 100% ऑक्सीजन होती है इसलिए डॉक्टर इसे बहुत ध्यान से इस्तेमाल करते है। जिस रूम में चैंबर रखा होता है उस रूम में और चैंबर के आसपास लाइटर, बॉडी स्प्रे, परफ्यूम, लिक्विड फ्यूल, सिगरेट आदि ले जाना सख्त मना होता है। 

Benefits Of HBOT 

जैसा कि हमने पहले भी मेंशन किया था कि इस थेरेपी को मरीज और सामान्य व्यक्ति दोनो ले सकते है। अब आप सोच रहे होंगे कि एक सामान्य व्यक्ति के लिए Hyperbaric Oxygen Therapy Ke Kya Fayde Hai? हम आपको बताएंगे कि आपको hyperbaric oxygen therapy क्यों लेनी चाहिए। यदि आप कोई एथलीट या स्पोर्ट्स खेलते है तब आपको Hyperbaric Oxygen Therapy लेनी चाहिए क्यों कि इस से न केवल आपका परफॉर्मेंस बेहतर होगा, बल्कि आप खेल के दौरान कम थकेंगे तथा आपकी मांसपेशियां मजबूत होगी जिससे खेल के दौरान चोटिल होने की संभावना बहुत कम हो जायेगी। HBOT से आपका स्वास्थ्य बेहतर होता है। 
और यदि आप खूबसूरत दिखना चाहते है तो भी आपको HBOT लेनी चाहिए क्यों कि HBOT लेने से आपकी स्किन सेल्स को भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन मिलने से आपकी त्वचा खूबसूरत हो जाती है और आपके चेहरे में निखार आ जाता है। HBOT शायद अकेला ऐसा तरीका है जिस से आप चेहरे की  खूबसूरती बढा सकते हो वो भी प्राकृतिक रूप से। 

सामान्य व्यक्तियों के अलावा निम्न रोगों के मरीज HBOT लेते हैं -

  1. गैंग्रीन
  2. डायबिटिक फुट
  3. अल्सर
  4. लकवा
  5. माइग्रेन 
  6. सिर या शरीर की कोई गंभीर चोट
  7. ऑटिज्म
  8. गठिया
  9. सूजन
  10. कैंसर
  11. डायबिटीज
  12. रेडिएशन
  13. स्ट्रोक 
  14. कार्बन मोनोक्साइड विषाक्तता
  15. साइनाइड विषाक्तता
  16. किरणकवकमयता या actinomycosis

HBOT Cautions

जैसा कि मैंने पहले भी कहा कि HBOT सामान्य व्यक्ति एवम् कोई विशेष रोग ( ऊपर बताए गए रोगों)  के रोगी ले सकते हैं। फिर भी इसे हर कोई नही ले सकता, यह सभी लोगो के लिए सेफ नहीं हैं। आपको HBOT नहीं लेना चाहिए यदि 
  • आपको फेंफड़ों से संबंधित कोई बीमारी है ।
  • सर्दी, जुकाम या बुखार है।
  • यदि आपको कान से संबंधित कोई बीमारी है, कोई चोट है या हाल ही में कान का कोई ऑपरेशन हुआ है।
  • मेडिकल बोर्ड द्वारा सर्टिफाइड डॉक्टर, जिनके पास Hyperbaric Oxygen Therapy की डिग्री हो, से ही HBOT लें।
  • HBOT के साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए पहले सर्टिफाइड डॉक्टर से सलाह लें, क्यों कि HBOT के कई हानिकारक दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। 

Cost Of HBOT 

अगर देखा जाए तो HBOT ज्यादा कॉस्टली नहीं है क्यों कि आप मात्र 1500 - 2000 Rs. में HBOT का एक सेशन ले सकते है। हो सकता है कुछ हॉस्पिटल अपने अनुसार ज्यादा फीस ले पर अमूमन 1500-2000 में एक सेशन ले सकते है। यदि आप 30 सेशन लेते हैं तो HBOT के पूरे सेशन के लिए आपको लगभग 45-60 हजार Rs देने पड़ेंगे।


तो दोस्तो कैसी लगी आपको आज की पोस्ट Kya Hai Hyperbaric Oxygen Therapy । Oxygen Therapy Ke Kya Fayde Hai ? अगर पसंद आए तो अपने परिवार वालो और दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें। धन्यवाद। जय हिंद जय भारत 🇮🇳🚩
What Is HBOT, Hyperbaric Oxygen Therapy, Oxygen Therapy Ke Fayde, Side Effects Of HBOT, Hyperbaric Oxygen Therapy Kya Hai

Post a Comment

© Brahmand Tak. All rights reserved. Developed by Jago Desain